विंडोज यूजर एकाउंट कंट्रोल (यूएसी) क्या है?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित करें?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स क्लाइंट पहला माइक्रोसाफ्ट 365 एप है जो कि लिनक्स डेस्कटाप के लिए उपलब्ध है। यह साफ्टवेयर चैट, वीडीयो मीटिंग, कालिंग और आफिस 365 के दस्तावेजों में सहकार्य हे एक ही मंच पर उपलब्ध करवाता है। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित किया जा सकता है।

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।
विंडोज यूजर एकाउंट कंट्रोल (यूएसी) क्या है? 9
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

यूएसी क्या है?

यूजर एकाउंट कंट्रोल यानि कि यूएसी विंडोज का वह अंग है जो कि वायरसों, मालवेयरो तथा कम्प्यूटर पर होने वाले अनाधिकृत परिवर्तनों को रोकता है। यह अंग विंडोज की सुरक्षा प्रणाली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। माइक्रोसॉफ्ट ने यूएसी को पहली बार विंडोज़ विस्टा के साथ निकाला और यह विंडोज़ ७ में भी मौजूद है।

READ  लिनक्स कमांडों की‌ चीटशीट - TLDR Pages

यूएसी आपके कम्प्यूटर की रक्षा कैसे करता है?

सामान्य अवस्था में विंडोज में अनुप्रयोग बिना किन्ही प्रशासनिक अधिकारों (administrative privileges) के चलते हैं। अत: वे कम्प्यूटर में कोई महत्वपूर्ण बदलाव करने में अक्षम होते हैं। जब किसी अनुप्रयोग को कोई महत्वपूर्ण परिवर्तन करना होता है तो यूएसी उसे रोक लेता है और आपसे अनुमति मांगता है। यदि आप उसे अनुमति दे देते हैं तभी वह प्रक्रिया आगे बढ़ती है। विंडोज में ऐसी व्यवस्था होने से वायरस इत्यादि कम्प्यूटर में आसानी से कोई बड़े परिवर्तन नही कर पाते हैं।

विंडोज यूजर एकाउंट कंट्रोल (यूएसी) क्या है? 5

किन किन कार्यों में प्रशासनिक अधिकारों की आवश्यकता पड़ती है?

  • किसी अनुप्रयोग को प्रशासक के तौर पर चलाने पर
  • विंडोज़ एवं प्रोग्राम फाइल फोल्डर के भीतर कोई परिवर्तन करने पर
  • कोई ड्राइवर या अनुप्रयोग स्थापित करने पर
  • एक्टिव एक्स कंट्रोलों को स्थापित करने पर
  • विंडोज़ फायरवाल का समायोजन करने पर
  • यूएसी का समायोजन करने पर
  • विंडोज़ अपडेट में कोई परिवर्तन करने पर
  • उपयोगकर्ताओं के खाते जोड़ने या हटाने पर
  • उपयोगकर्ता के खाते का प्रकार बदलने पर
  • अभिभावकीय नियंत्रण (पैरेंटल कंट्रोल) में कोई परिवर्तन करने पर
  • टास्क शेड्यूलर चलाने पर
  • सिस्टम फाइलों के बैक अप को पुनर्स्थापित करने पर
  • किसी अन्य उपयोगकर्ता के फोल्डरों एवं फाइलों को देखने पर
  • कम्प्यूटर के दिनांक एवं समय में परिवर्तन करने पर
READ  इन 4 तरीकों से आप Deb फाइलों को इंस्टॉल कर सकते हैं

यूएसी के स्तरों का क्या मतलब है?

विंडोज यूजर एकाउंट कंट्रोल (यूएसी) क्या है? 6

विंडोज विस्टा में यूएसी के लिए केवल दो विकल्प थे “चालू” और “बंद”। इसके विपरीत विंडोज ७ में यूएसी के चार स्तर उपलब्ध हैं। ये हैं:

१. आलवेज नोटिफाई (हमेशा सूचित करें) : जब जब आप स्वयं या कोई प्रोग्राम कम्प्यूटर में कोई ऐसे परिवर्तन करने की कोशिश करेगा जिसे करने के लिए “प्रशासनिक अधिकारों” की आवश्यकता पड़ती है तब तब आपको उसके विषय में सूचित किया जाएगा। यह सबसे अधिक सुरक्षित स्थिति है किन्तु यूएसी का डायलॉग बॉक्स बार बार आ जाने से परेशान कर देता है।

२. डिफाल्ट (सामान्य अवस्था) : जब जब कोई प्रोग्राम कम्प्यूटर में कोई ऐसे परिवर्तन करने की कोशिश करेगा जिसे करने के लिए “प्रशासनिक अधिकारों” की आवश्यकता पड़ती है तब तब आपको उसके विषय में सूचित किया जाएगा। किन्तु यदि ये परिवर्तन आप स्वयं करेंगे तो आपको सूचना नही दी जाएगी। यह तुलनात्मक रूप से कम सुरक्षित स्थिति है क्योंकि वायरस/प्रोग्राम माउस कीबोर्ड की नकली हलचलों को पैदा करके कोई बड़ा परिवर्तन कर सकते हैं। फिर भी यदि आपने कोई अच्छा एंटी वायरस रखा है तो चिंता की कोई बात नही है।

READ  एंड्रायड को बिना root किए एंड्रायड में hosts फाइलें संपादित करें
READ  रैम अपग्रेड के पहले रखें इन 5 बातों का ख्याल

३. डू नॉट डिम माई डेस्कटॉप : यह विकल्प पिछले वाले विकल्प की तरह ही है पर इसमें आपकी डेस्कटॉप “मद्धिम” नही होती है। यह और भी कम सुरक्षित स्थिति है क्योंकि डेस्कटॉप के मद्धिम हो जाने पर अन्य प्रोग्राम माउस पर से नियंत्रण खो देते थे और केवल यूएसी का डायलॉग बॉक्स पर ही आप क्लिक कर सकते थे। इस स्थिति में कोई वायरस भी माउस प्वाइंटर पर नियंत्रण करके यूएसी के डॉयलाग से छेड़छाड़ कर सकता है।

४. नेवर नोटिफाई : यूएसी पूरी तरह से बंद हो जाता है। ऐसा करना कम्प्यूटर को असुरक्षित स्थिति में डालना है।

क्या आपको यूएसी बंद कर देना चाहिए? यदि नही तो उसका कौन सा स्तर रखना सही होगा?

नही। “सिरदर्द और सुरक्षा” दोनों के बीच संतुलन बनाते हुए मेरा मानना है कि यूएसी का द्वितीय स्तर (डिफाल्ट) रखना उचित है। विंडोज ७ में यह पहले से ही निर्धारित किया गया रहता है।

माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित करें?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स क्लाइंट पहला माइक्रोसाफ्ट 365 एप है जो कि लिनक्स डेस्कटाप के लिए उपलब्ध है। यह साफ्टवेयर चैट, वीडीयो मीटिंग, कालिंग और आफिस 365 के दस्तावेजों में सहकार्य हे एक ही मंच पर उपलब्ध करवाता है। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित किया जा सकता है।

More Articles Like This