लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।
लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें 4
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।

READ  Pop OS Linux की‌ 5 खास विशेषताएं

तो आज हम आपको यही बताने जा रहे हैं कि किसी भी लिनक्स के कमांड के परिणाम को आप किसी फाइल में किस तरह से सहेज सकते हैं।

तरीका १ : लिनक्स में रिडायरेक्शन आपरेटर का प्रयोग

जब आप रिडायरेक्शन आपरेटर का प्रयोग करते हैं तब आपके कमांड का परिणाम टर्मिनल में न दिखकर सीधा फाइल में चला जाता है। रिडायरेक्शन आपरेटर दो प्रकार के होते हैं: > और >>

जब हम > का प्रयोग करते हैं तब कमांड का परिणाम फाइल में चला जाता है किन्तु यदि फाइल में पहले से बनी हुई है और उसमें कुछ डेटा मौजूद है तो वह मिट जाता है और उसके स्थान पर नया डेटा आ जाता है।

READ  स्टैशर: लिनक्स सिस्टम ऑप्टिमाइजेशन का बेहतरीन औजार

उदाहरण के लिए

ls > output.txt (Syntax: Command > Filename)

इससे ls कमांड का सारा परिणाम output.txt फाइल में चला जाता है। इसे जितनी बार क्रियान्वित करेंगे उतनी बार नया परिणाम output.txt फाइल में लिख दिया जाएगा। किन्तु पुराना डेटा/परिणाम हट जाएगा।

यदि हम >> आपरेटर का प्रयोग करें। जैसे:

ls >> output.txt (Syntax: Command >> Filename)

इसे जितनी बार क्रियान्वित करेंगे उतनी बार कमांड का परिणाम output.txt में जोड़ दिया जाएगा। यानि कि पिछला डेटा output.txt फाइल से नही हटेगा।

ध्यान रहे यदि आपके कमांड से एरर पैदा होती है तो वह एरर फाइल में नही सहेजी जाएगी। यदि आप उस एरर या त्रुटि संदेश को भी फाइल में सहेजना चाहते हैं तो कमांड के आगे 2>&1 लिख दें। उदाहरण के लिए

ls > output.txt 2>&1

तरीका २: लिनक्स में कमांड आउटपुट को न केवल फाइल में सहेजना बल्कि स्क्रीन पर भी‌ दिखाना

रिडायरेक्शन आपरेटर से कमांड का आउटपुट तो फाइल में चला जाता है किन्तु फिर वह स्क्रीन पर दिखाई नही देता है। tee कमांड को पाइप के जरिए प्रयोग करके आप न केवल कमांड के आउटपुट को फाइल में सहेज सकते हैं बल्कि उसे स्क्रीन में उसी समय देख भी‌ सकते हैं।

READ  आइये लिनक्स फाइल सिस्टम को समझें

इसका सिंटेक्स होगा:

command | tee file.txt

अपेंड मोड के लिए -a आपरेटर का प्रयोग करना होगा।

command | tee -a file.txt

उदाहरण के लिए

ls -lh | tee output.txt

Using tee command to display terminal output and saving in file

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।
READ  नेक्स्ट क्लाउड: ड्रॉपबॉक्स और गूगल ड्राइव का मुफ्त और मुक्तस्रोत विकल्प

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।

वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित करें

वेबमिन यूनिक्स तथा लिनक्स के लिए वेब आधारित सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन साफ्टवेयर है। इस एप्लिकेशन के माध्यम से कोई भी बंदा वेब ब्राउजर के माध्यम से ही‌ अपने सर्वर को नियंत्रित कर सकता है। इसे आप लिनक्स सर्वर का जीयूआई भी कह सकते हैं। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित किया जा सकता है।

लिनक्स कमांडों की‌ चीटशीट – TLDR Pages

लिनक्स में यदि किसी कमांड के बारे में जानना हो तो MAN पेजों का सहारा लेना पड़ता है। MAN पेजों में यद्यपि उस कमांड के विषय में सम्पूर्ण जानकारी होती है फिर भी आम उपयोगकर्ता के लिए ये समझने में कुछ कठिन रहता है। आज हम TLDR के विषय में चर्चा करेंगे। TLDR लोगों द्वारा बनाए गए लिनक्स कमांड से संबंधित "हेल्प पेजों" का संग्रह है जिन्हे कि किसी भी क्लाइंट द्वारा प्राप्त किया जा सकता है। यह पारंपरिक MAN पेजों का एक तगड़ा विकल्प बन सकता है। क्योंकि ये समझने में बेहद आसान है।

More Articles Like This