भविष्य में जालस्थलों के पते ऐसे होंगे

माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित करें?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स क्लाइंट पहला माइक्रोसाफ्ट 365 एप है जो कि लिनक्स डेस्कटाप के लिए उपलब्ध है। यह साफ्टवेयर चैट, वीडीयो मीटिंग, कालिंग और आफिस 365 के दस्तावेजों में सहकार्य हे एक ही मंच पर उपलब्ध करवाता है। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित किया जा सकता है।

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।
भविष्य में जालस्थलों के पते ऐसे होंगे 4
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

भविष्य में जालस्थलों के पते ऐसे होंगे 1

आजकल किसी जालस्थल का पता कुछ ऐसा होता है, www.antarjaal.in । यानि कि अंतिम हिस्सा .com, .in, .co.in आदि अक्षरों से समाप्त होता है। किन्तु आने वाले दिनों में अंतिम हिस्से में कोई भी शब्द हो सकेगा। जैसे कि blogs.antarjaal बस इतना ही काफी होगा। ICANN संस्था जो कि पूरे विश्व में डोमेन नाम जारी करती है वह अगले वर्ष (अर्थात २०१२) से ऐसे नामों के लिए आवेदन स्वीकार भी करना आरंभ कर देगी। लेकिन अधिक खुश होने की आवश्यकता इसलिए नही है क्योंकि ऐसे नाम हमारे आपके जैसे आम लोगों की पहुंच से बाहर होंगे यानि कि काफी महंगे होंगे। $185000 तो मात्र आवेदन शुल्क होगा और $25000 वार्षिक नवीनीकरण के लिए देना होगा। जाहिर सी बात है कि बड़ी कंपनियां ही ऐसे नाम पंजीकृत करवा पाएंगी।

READ  फ़ायरफ़ॉक्स 81 में नया क्या?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित करें?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स क्लाइंट पहला माइक्रोसाफ्ट 365 एप है जो कि लिनक्स डेस्कटाप के लिए उपलब्ध है। यह साफ्टवेयर चैट, वीडीयो मीटिंग, कालिंग और आफिस 365 के दस्तावेजों में सहकार्य हे एक ही मंच पर उपलब्ध करवाता है। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित किया जा सकता है।

More Articles Like This