GUI, CLI, TUI में क्या अंतर है

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।
GUI, CLI, TUI में क्या अंतर है 6
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

जब भी आप तकनीकी दुनिया में प्रवेश करते हैं तो कई बार आपका पाला GUI, CLI और कई बार TUI जैसे शब्दों से जरूर पड़ा होगा। आइए जानते हैं कि ये क्या हैं ये बलाएं?

READ  Tasksel से उबुण्टू‌/डेबियन में LAMP सर्वर स्थापित करें

GUI (Graphical User Interface)

जीयूआई अर्थात ग्राफिकल यूजर इंटरफेस। इस शब्द को आपने सबसे अधिक सुना होगा। ये जीयूआई ही है जिसने आम उपयोगकर्ता के लिए कम्प्य़ूटर को चलाना आसान बना दिया है। एक जीयूआई अनुप्रयोग ऐसा अनुप्रयोग होता है जिसे माउस, टचपैड या टचस्क्रीन के द्वारा चलाया जा सकता है। इसकी विभिन्न प्रोग्रामों को क्रियान्वित करने के लिए माउस प्वाइंटर का प्रयोग किया जाता है। विंडोज और मैकिंटोश जीयूआई आधारित आपरेटिंग सिस्टम है। वहीं‌ लिनक्स में जीनोम, केडीई आदि डेस्कटाप वातावरण आपको ग्राफिकल इंटरफेस प्रदान करते हैं।

GUI Interface in Libre office Writer Linux

CLI (Command Line Interface)

सीएलआई एक कमांड लाइन प्रोग्राम है जो एक निश्चित कार्य करने के लिए टेक्स्ट इनपुट स्वीकार करता है। मूल रूप से, कोई भी एप्लिकेशन जिसे आप टर्मिनल में कमांड के माध्यम से उपयोग कर सकते हैं, इस श्रेणी में आता है।

READ  स्टैशर: लिनक्स सिस्टम ऑप्टिमाइजेशन का बेहतरीन औजार

पुराने जमाने में कम्प्यूटरों में जीयूआई नही हुआ करता था। तो उस समय लोग कमांड लाइन के जरिए ही कम्प्यूटर पर कार्य करते थे। आज भी‌ आप विंडोज में पावरशेल, कमांड लाइन प्रोम्प्ट और लिनक्स में टर्मिनल के जरिए कमांड लाइन का प्रयोग कर सकते हैं। कई ऐसे साफ्टवेयर भी‌ आते है जो कि होते तो जीयूआई एप्लिकेशन हैं किन्तु वास्तव में वो कमांड लाइन के जरिए ही‌ सारे कार्य कर रहे होते हैं।

Command Line Interface CLI

TUI (Terminal User Interface)

जीयूआई और सीएलआई के बीच की‌ चीज है TUI यानि टर्मिनल यूजर इंटरफेस। इसे एक तरह का टेक्स्ट आधारित जीयूआई भी‌ कह सकते हैं। जीयूआई के आने के पहले सब कुछ कमांड लाइन पर ही चलता था तो उस जमाने में टर्मिनल यूजर इंटरफेस ने कमांड लाइन पर एक तरह का जीयूआई प्रदान किया था। टीयूआई प्रोग्रामों को माउस या कीबोर्ड के माध्यम से चलाया जा सकता है। टीयूआई का सबसे बढ़िया उदाहरण टर्मिनल पर चलने वाले गेम हैं। इसके अतिरिक्त Open Suse Yast, Aptitude.

READ  PHP Desktop से पीएचपी से बनाएं‌ डेस्कटॉप अनुप्रयोग
Terminal User Interface TUI

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।
READ  PHP Desktop से पीएचपी से बनाएं‌ डेस्कटॉप अनुप्रयोग

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।

वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित करें

वेबमिन यूनिक्स तथा लिनक्स के लिए वेब आधारित सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन साफ्टवेयर है। इस एप्लिकेशन के माध्यम से कोई भी बंदा वेब ब्राउजर के माध्यम से ही‌ अपने सर्वर को नियंत्रित कर सकता है। इसे आप लिनक्स सर्वर का जीयूआई भी कह सकते हैं। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित किया जा सकता है।
READ  Libre Office Draw से पीडीएफ दस्तावेजों का संपादन करें

लिनक्स कमांडों की‌ चीटशीट – TLDR Pages

लिनक्स में यदि किसी कमांड के बारे में जानना हो तो MAN पेजों का सहारा लेना पड़ता है। MAN पेजों में यद्यपि उस कमांड के विषय में सम्पूर्ण जानकारी होती है फिर भी आम उपयोगकर्ता के लिए ये समझने में कुछ कठिन रहता है। आज हम TLDR के विषय में चर्चा करेंगे। TLDR लोगों द्वारा बनाए गए लिनक्स कमांड से संबंधित "हेल्प पेजों" का संग्रह है जिन्हे कि किसी भी क्लाइंट द्वारा प्राप्त किया जा सकता है। यह पारंपरिक MAN पेजों का एक तगड़ा विकल्प बन सकता है। क्योंकि ये समझने में बेहद आसान है।

More Articles Like This