Pop OS Linux की‌ 5 खास विशेषताएं

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।
Pop OS Linux की‌ 5 खास विशेषताएं 7
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

Pop OS एक अमेरिकी कम्प्यूटर निर्माता कंपनी System76 द्वारा विकसित किया गया लिनक्स वितरण है। Pop OS Ubuntu पर आधारित है। इसमें पूर्व स्थापित अनुप्रयोग बेहद कम है। इसलिए आपको इसमें‌ शायद ही कोई अनुप्रयोग हटाने की जरूरत पड़े। उबुण्टू‌ की‌ सभी‌ खूबियां तो इसमें हैं ही साथ ही‌ कुछ अतिरिक्त विशेषताएं भी‌ हैं. आइए जानते हैं:

READ  GUI, CLI, TUI में क्या अंतर है

१) लिनक्स में एनवीडिया ग्राफिक्स का समर्थन

Pop OS एनवीडीया के जीपीयू के सभी ड्राइवरों के साथ आता है। अत: यदि आपके कम्प्यूटर में NVIDIA का कार्ड लगा है तो आपको Pop OS प्रयोग करना चाहिए। यहां तक कि यदि आप Pop!_OS की वेबसाइट पर इसे डाउनलोड करने के लिए जाते हैं तब यह NVIDIA वाला वर्जन अलग से डाउनलोड करने के लिए मिलता है। एनवीडिया के सपोर्ट के कारण यह गेम खेलने के लिए उपयुक्त वितरण बन जाता है। लैपटापों में‌यह हाइब्रिड ग्राफिक मोड प्रदान करता है जिससे यह सामान्य अवस्था में‌ इंटेल के जीपीयू का प्रयोग करके बिजली बचाता है और जब किसी अनुप्रयोग को एनवीडिया कार्ड की जरूरत होती है तो तब यह एनवीडिया के जीपीयू का प्रयोग करने लगता है।

READ  आइये लिनक्स फाइल सिस्टम को समझें

२) डिस्क एनक्रिप्शन

Pop OS में स्थापना प्रक्रिया के दौरान ही‌ डिस्क एनक्रिप्शन हेतु पूछा जाता है। आप उसी समय एनक्रिप्शन का पासवर्ड भरकर अपने डेटा को अधिक सुरक्षित बना सकते हैं।

३) वर्कस्पेस और विंडो प्रबंधन (आटो टाइलिंग के साथ)

वर्कस्पेस और विंडो के प्रबंधन हेतु Pop OS में‌ कीबोर्ड शार्टकट दिए गए हैं। यदि आप वर्कस्पेस के लेआउट को Tile चुन लेते हैं तो हर एक नई विंडो दूसरी विंडो के बगल में‌ सेट हो जाएगी। और आप उन्हे खींचकर टाइल्स से अलग भी‌ कर सकते हैं।

Pop OS Linux की‌ 5 खास विशेषताएं 1

४) मुक्त साफ्टवेयरों के साथ साथ प्रापराइटरी साफ्टवेयर भी

वैसे तो Pop OS के साथ ज्यादातर मुक्त साफ्टवेयर आते हैं। किन्तु मीडीया कोडेक, हार्डवेयर ड्राइवरों आदि के लिए प्रापराइटरी साफ्टवेयर भी प्रयोग किए गए हैं।

५) विंडोज की तरह लिनक्स को भी‌ रिसैट करें

PopOS एक रिकवरी पार्टीशन भी बनाता है जिससे आप अपनी फाइलों को बिना नुकसान पहुंचाए लिनक्स को रिसैट कर सकते हैं। हलांकि आपको साफ्टवेयर पुन: इंस्टाल करने होंगे। यदि आप Pop OS का इंस्टालर किसी‌ ऐसे कम्प्यूटर में चलाते हैं जिसमें Pop OS पहले से ही‌ स्थापित है तो आपको इंस्टालर बीच में ही आपको इसे Refresh Install करने का विकल्प देता है।

READ  Pop!_OS 20.10 डाउनलोड करें
Pop OS Linux की‌ 5 खास विशेषताएं 3

आज ही Pop OS डाउनलोड करें

https://pop.system76.com/

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।
READ  Ubuntu 20.10 डाउनलोड के लिए उपलब्ध

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।

वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित करें

वेबमिन यूनिक्स तथा लिनक्स के लिए वेब आधारित सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन साफ्टवेयर है। इस एप्लिकेशन के माध्यम से कोई भी बंदा वेब ब्राउजर के माध्यम से ही‌ अपने सर्वर को नियंत्रित कर सकता है। इसे आप लिनक्स सर्वर का जीयूआई भी कह सकते हैं। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित किया जा सकता है।

लिनक्स कमांडों की‌ चीटशीट – TLDR Pages

लिनक्स में यदि किसी कमांड के बारे में जानना हो तो MAN पेजों का सहारा लेना पड़ता है। MAN पेजों में यद्यपि उस कमांड के विषय में सम्पूर्ण जानकारी होती है फिर भी आम उपयोगकर्ता के लिए ये समझने में कुछ कठिन रहता है। आज हम TLDR के विषय में चर्चा करेंगे। TLDR लोगों द्वारा बनाए गए लिनक्स कमांड से संबंधित "हेल्प पेजों" का संग्रह है जिन्हे कि किसी भी क्लाइंट द्वारा प्राप्त किया जा सकता है। यह पारंपरिक MAN पेजों का एक तगड़ा विकल्प बन सकता है। क्योंकि ये समझने में बेहद आसान है।

More Articles Like This