एंड्रायड को बिना root किए एंड्रायड में hosts फाइलें संपादित करें

एंड्रायड को बिना root किए एंड्रायड में hosts फाइलें संपादित करें 11
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

वेब डेवेलपरों को अक्सर होस्ट फाइलें संपादित करके अपने वेब एप्लिकेशन का परीक्षण करना पड़ता है। इस हेतु लिनक्स में‌ /etc/hosts फाइलों का संपादन किया जा सकता है और विंडोज़ में c:\windows\system32\drivers\etc\hosts किन्तु अगर हम एंड्रायड फोन के जरिए ऐसे कस्टम डोमेन नेम वाली साइटों को लोकल एरिया नेटवर्क में खोलना चाहें तो वे नही खुलती। HostsGo एक ऐसा एंड्रायड एप्लिकेशन है जिसके जरिए हम एंड्रायड की होस्ट फाइलें संपादित कर सकते हैं और मोबाइल पर लोकल एरिया नेटवर्क में स्थित कस्टम डोमेन वाली किसी भी साइट को मोबाइल में खोल सकते हैं। यह वेब एप्लिकेशनों के परीक्षण हेतु बेहद उपयोगी एप है।

READ  Tasksel से उबुण्टू‌/डेबियन में LAMP सर्वर स्थापित करें

जब आप इसे शुरू करेंगे तब आपके सामने कुछ इस प्रकार की स्क्रीन आएगी. इसमें Hosts Change Switch को सक्षम करें। और होस्ट एडीटर में क्लिक करें।

एंड्रायड को बिना root किए एंड्रायड में hosts फाइलें संपादित करें 1

होस्ट एडीटर में +बटन पर क्लिक करके आईपी पता और डोमेन नेम लिखें। कुछ इस प्रकार से

एंड्रायड को बिना root किए एंड्रायड में hosts फाइलें संपादित करें 3

अब एड डोमेन बटन पर क्लिक करें। एप के होमपेज पर जाकर “Start” बटन पर क्लिक करें।

READ  इन 4 कमांडों से लिनक्स आपरेटिंग सिस्टम के विषय में विस्तृत जानकारी प्राप्त करें
एंड्रायड को बिना root किए एंड्रायड में hosts फाइलें संपादित करें 5

अब अपने एंड्रायड फोन पर वह कस्टम डोमेन खोलकर देखें। वह खुलने लगेगा।

एंड्रायड को बिना root किए एंड्रायड में hosts फाइलें संपादित करें 7

HostsGo का प्रयोग आप फोन पर अभिभाविकीय नियंत्रण स्थापित करने हेतु भी कर सकते हैं। यदि आप चाहते हैं कि कुछ साइटें आपके बच्चे न खोल सकें तो मोबाइल पर इस एप के माध्यम से उन साइटों को अवरुद्ध कर सकते हैं। HostsGo से को आटोस्टार्ट भी‌ किया जा सकता है। अर्थात फोन के चालू होते ही यह एप भी‌ चलने लगेगा।

READ  इन 4 कमांडों से लिनक्स आपरेटिंग सिस्टम के विषय में विस्तृत जानकारी प्राप्त करें

HostsGo को प्ले स्टोर से डाउनलोड करें:
https://play.google.com/store/apps/details?id=dns.hosts.server.change

अनलिमिटेड वेब होस्टिंग की सच्चाई

आपने अक्सर देखा होगा कि कई वेब होस्टिंग कंपनियां अनलिमिटेड शेयर्ड होस्टिंग बेचती हैं। क्या अनलिमिटेड का अर्थ वाकई...

More Articles Like This