आइए विंडोज टास्क शेड्यूलर को समझें

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।
आइए विंडोज टास्क शेड्यूलर को समझें 18
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

हमारे विंडोज आधारित कम्प्यूटर में टास्क शेड्यूलर नामक एक प्रोग्राम होता है। इस प्रोग्राम की सहायता से विंडोज किसी समय अथवा परिस्थिति विशेष में किन्ही आदेशों अथवा प्रोग्रामों का क्रियान्वयन करता है। उदाहरण के लिए स्वचालित रूप से डिस्क डिफ्रैग करना, बैक अप लेना इत्यादि।

विंडोज टास्क शेड्यूलर को चालू करने के लिए स्टार्ट में क्लिक करके Task Scheduler लिखें। यह आपको इस प्रकार से दिखाई देगा। उसमें क्लिक करें और वह चालू हो जाएगा।

READ  लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

windows_task_scheduler0

जैसा कि आप देख पाएंगे कि विंडोज टास्क शेड्यूलर में कई फोल्डर दिखाई पड़ रहे हैं। वास्तव में विंडोज भिन्न भिन्न किस्म के कार्यों को इन्ही फोल्डरों में वर्गीकृत करके व्यवस्थित करता है। यहां हम उदाहरण के लिए Microsoft >> Windows >> Defrag में जाएंगे। यहां हमें एक कार्य दिखाई दे रहा है, जो कि एक निश्चित समय में आरंभ होगा।

windows_task_scheduler1

इसमें डबल क्लिक करके जब हम देखेंगे तो हमें इससे संबंधित कई जानकारियां दिखेंगी। मसलन यह किस उपयोगकर्ता के लिए चलना चाहिए? विवरण आदि। इसमें ट्रिगर टैब से हम यह निर्धारित कर सकते हैं कि अमुक “टास्क” कब चालू हो।

READ  लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

windows_task_scheduler3

एक्शन्स टैब से हम यह निर्धारित कर सकते हैं कि अमुक टास्क के लिए कौन सा प्रोग्राम/आदेश क्रियान्वित होना चाहिए।

windows_task_scheduler4

साथ ही “कंडीशन्स” टैब में जाकर हम यह भी तय कर सकते हैं कि यह कार्य किन परिस्थितियों में चले। उदाहरण के लिए यदि आप कम्प्यूटर पर कार्य कर रहे हों तो डिफ्रैगमेंट की प्रक्रिया नही होनी चाहिए। यह तभी आरंभ हो जब आप कम्प्यूटर पर कोई कार्य न कर रहे हों।

windows_task_scheduler2

विंडोज टास्क मैनेजर का प्रयोग केवल विंडोज ही नही बल्कि अन्य कंपनियों द्वारा निर्मित प्रोग्राम भी करते हैं। और तो और आप स्वयं की भी “टास्क” बना सकते हैं इस प्रोग्राम के जरिए। इसके लिए आपको बाईं ओर वाले पैनल में दाहिना क्लिक करके Create Task में क्लिक करना होगा। कुछ प्रोग्राम टास्क शेड्यूलर का प्रयोग नही करते हैं वे समय/परिस्थिति विशेष में किसी कार्य को सम्पन्न कराने केलिए स्वयं का कोई प्रोग्राम पृष्ठ भूमि में चलाते हैं। उदाहरण के लिए जावा, टास्क शेड्यूलर का प्रयोग करने के स्थान पर jusched.exe प्रोग्राम को पृष्ठभूमि में चलाता है।

READ  NetData: उबुण्टू‌ सर्वर की निगरानी का मुफ्त औजार

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।
READ  रैम अपग्रेड के पहले रखें इन 5 बातों का ख्याल

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।

वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित करें

वेबमिन यूनिक्स तथा लिनक्स के लिए वेब आधारित सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन साफ्टवेयर है। इस एप्लिकेशन के माध्यम से कोई भी बंदा वेब ब्राउजर के माध्यम से ही‌ अपने सर्वर को नियंत्रित कर सकता है। इसे आप लिनक्स सर्वर का जीयूआई भी कह सकते हैं। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित किया जा सकता है।

लिनक्स कमांडों की‌ चीटशीट – TLDR Pages

लिनक्स में यदि किसी कमांड के बारे में जानना हो तो MAN पेजों का सहारा लेना पड़ता है। MAN पेजों में यद्यपि उस कमांड के विषय में सम्पूर्ण जानकारी होती है फिर भी आम उपयोगकर्ता के लिए ये समझने में कुछ कठिन रहता है। आज हम TLDR के विषय में चर्चा करेंगे। TLDR लोगों द्वारा बनाए गए लिनक्स कमांड से संबंधित "हेल्प पेजों" का संग्रह है जिन्हे कि किसी भी क्लाइंट द्वारा प्राप्त किया जा सकता है। यह पारंपरिक MAN पेजों का एक तगड़ा विकल्प बन सकता है। क्योंकि ये समझने में बेहद आसान है।

More Articles Like This