पुस्तक समीक्षा: CMS Design Using PHP and jQuery

माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित करें?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स क्लाइंट पहला माइक्रोसाफ्ट 365 एप है जो कि लिनक्स डेस्कटाप के लिए उपलब्ध है। यह साफ्टवेयर चैट, वीडीयो मीटिंग, कालिंग और आफिस 365 के दस्तावेजों में सहकार्य हे एक ही मंच पर उपलब्ध करवाता है। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित किया जा सकता है।

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।
पुस्तक समीक्षा: CMS Design Using PHP and jQuery 6
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

पुस्तक समीक्षा: CMS Design Using PHP and jQuery 3

CMS Design Using PHP and jQuery

Language : English
Paperback : 340 pages [ 235mm x 191mm ]
Release Date : December 2010
ISBN : 1849512523
ISBN 13 : 978-1-84951-252-7

सीएमएस डिजाइन यूजिंग पीएचपी एंड जेक्वेरी पैक्ट (PACKT) प्रकाशन के द्वारा कुछ ही समय पहले निकाली गई पुस्तक है। जैसा कि नाम से स्पष्ट है कि इस पुस्तक के माध्यम से आप एक संपूर्ण सामग्री प्रबंधन तंत्र को विकसित करना सीख पाएंगे। इस पुस्तक में बताया गया सामग्री प्रबंधन तंत्र वह सब कुछ अपने आप में समेटे हुए है जो कि एक सामग्री प्रबंधन तंत्र में होना चाहिए। जैसे पॄष्ठ बनाना, टेम्प्लेट तंत्र, प्लग इन तंत्र, विजेट तंत्र, इंस्टालर (स्थापना तंत्र).

इस पुस्तक में जिस सामग्री प्रबंधन तंत्र का उदाहरण लिया गया है वह वास्तविकता में उपलब्ध भी है। इसका नाम है वेब वर्क्स वेबएमई। इसे आप गूगल कोड की वेबसाइट से डाउनलोड भी कर सकते हैं।

http://code.google.com/p/webworks-webme/downloads/detail?name=webworks-webme-20090502-r95.tar.bz2&can=2&q=

अच्छा

पुस्तक की भाषा और प्रवाह एकदम सही है। यदि आप क्रम से सभी कोडों को “कॉपी-पेस्ट” करते जाएंगे तो आप आसानी से पूरा तंत्र विकसित कर लेंगे। हां, कोड में कहीं पर एकाध वर्णों की त्रुटि हो सकती है जिसकी वजह से प्रोग्राम न चले लेकिन यदि आप अच्छा आईडीई प्रयोग कर रहे हैं तो आप आसानी से उसे ठीक कर लेंगे।

बुरा

इस पुस्तक में कोड लिखने के तौर तरीकों का कोई विशेष ध्यान नही रखा गया है इसके अलावा फार्म वैधीकरण इत्यादि के ऊपर भी कोई ध्यान नही दिया गया है। इस पुस्तक द्वारा विकसित सीएमएस जूमला जैसा कोई भारी भरकम सीएमएस नही है। अत: वह आशा आप मत कीजिएगा। यह एक बहुत ही छोटे स्तर का सीएमएस है जिसमें एक सामग्री प्रबंधन तंत्र के सभी आधारभूत गुण मौजूद हैं।

मेरा मूल्यांकन:

५ में से १.५

पुस्तक खरीदने के लिए यहां जाएं:

https://www.packtpub.com/cms-design-using-php-and-jquery/book

इस पुस्तक की कुछ मुफ्त सामग्री

https://www.packtpub.com/sites/default/files/2527OS-Chapter-7-Plugins.pdf

माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित करें?

माइक्रोसाफ्ट टीम्स क्लाइंट पहला माइक्रोसाफ्ट 365 एप है जो कि लिनक्स डेस्कटाप के लिए उपलब्ध है। यह साफ्टवेयर चैट, वीडीयो मीटिंग, कालिंग और आफिस 365 के दस्तावेजों में सहकार्य हे एक ही मंच पर उपलब्ध करवाता है। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि माइक्रोसाफ्ट टीम्स को लिनक्स पर कैसे स्थापित किया जा सकता है।

More Articles Like This