अंग्रेजी महीनों का नाम कैसे पड़ा?

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।
अंग्रेजी महीनों का नाम कैसे पड़ा? 6
Ankur Guptahttps://antarjaal.in
पेशे से वेब डेवेलपर, पिछले १० से अधिक वर्षों का वेबसाइटें और वेब एप्लिकेशनों के निर्माण का अनुभव। वर्तमान में ईपेपर सीएमएस क्लाउड (सॉफ्टवेयर एज सर्विस आधारित उत्पाद) का विकास और संचालन कर रहे हैं। कम्प्यूटर और तकनीक के विषय में खास रुचि। लम्बे समय तक ब्लॉगर प्लेटफॉर्म पर लिखते रहे. फिर अपना खुद का पोर्टल आरम्भ किया जो की अन्तर्जाल डॉट इन के रूप में आपके सामने है.

अंग्रेजी महीनों का नाम कैसे पड़ा? 3

जनवरी (जैनुअरिस): यह माह रोम के दरवाजों के देवता जेनस को समर्पित है। जेनस के दो सिर होते हैं एक आगे और एक पीछे जो कि क्रमश: आगे वाले और जाने वाले वर्ष की ओर देखते रहते हैं।

फरवरी (फैब्रुअरिस): इस माह का नाम रोम के एक शुद्धिकरण त्योहार फेब्रुआ के नाम पर पड़ा है जो कि इस माह हुआ करता था।

मार्च (मार्टियस) : इस माह का नाम रोम के युद्ध के देवता मार्स के नाम पर पड़ा है।

अप्रैल(एप्रिलिस): इस शब्द की उत्पत्ति लैटिन के अपिरिरे नाम के शब्द से हुई है जिसका अर्थ खुलना होता है। और इस माह पौधे खुलना आरंभ करते हैं।

मई (मायुस) यह नाम संभवत: रोम की विकास और समृद्धि की देवी माइया के नाम पर रखा गया है।

जून (जूनियस): यह नाम संभवत: या तो रोम के पारिवारिक नाम जूनियस के आधार पर रखा गया है या फिर जूनो देवी के नाम पर रखा गया है।

जुलाई (जूलियस) : इस महीने का यह नाम जूलियस सीजर के सम्मान में मार्क एंटनी द्वारा ४४ ई.पू. में रखा गया था। इसके पहले जुलाई का नाम क्विंटलिस था जो कि क्विंटस शब्द से पैदा हुआ था जिसका अर्थ पांच होता है। जुलाई रोमन कैलेंडर में पांचवां महीना हुआ करता था।

अगस्त (अगस्टस) इस महीने का नाम अगस्टस राजा के सम्मान में ८ ई.पू. में रखा गया था।

सितम्बर: इसके नाम की उत्पत्ति सेप्टेम शब्द से हुई है जिसका अर्थ सात होता है। और यह माह रोमन कैलेंडर में सातवां हुआ करता था।

अक्टूबर: इसके नाम की उत्पत्ति ऑक्टो शब्द से हुई है जिसका अर्थ आठ होता है। और यह माह रोमन कैलेंडर में आठवां हुआ करता था।

नवम्बर: इसके नाम की उत्पत्ति नोवेम शब्द से हुई है जिसका अर्थ नौ होता है। और यह माह रोमन कैलेंडर में नवमां हुआ करता था।

दिसम्बर: इसके नाम की उत्पत्ति डेकेम शब्द से हुई है जिसका अर्थ दस होता है। और यह माह रोमन कैलेंडर में दसवां हुआ करता था।

XnConvert लिनक्स में बैच इमेज प्रोसेसिंग का बेहतरीन औजार

XnConvert एक ऐसा ही क्रास प्लेटफार्म बैच इमेज प्रोसेसिंग साफ्टवेयर है जिसकी मदद से हम न केवल ढेरों चित्रों के फार्मेट एक क्लिक में बदल सकते हैं बल्कि वाटरमार्किंग, स्पेशल इफेक्ट्स, बार्डर लगाना, इमेज एडजस्टमेंट आदि भी एक ही क्लिक में कर सकते हैं। यह विंडोज लिनक्स और मैक ओएस तीनो में चलता है।

वर्डप्रेस और गूगल डॉक्स में बोलकर टाइप कैसे करें

अब वे दिन गए जब लम्बे दस्तावेज टाइप करने के लिए या तो टाइपिस्ट की मदद लेनी होती थी या फिर खुद टाइपिंग सीखनी‌ होती थी। क्योंकि अब कृत्रिम बुद्धि के विकास की वजह से बोलकर टाइप करना संभव है। आज हम वेब आधारित उन औजारों के बारे में जानेंगे जिनकी मदद से हम बोलकर लम्बे दस्तावेज टाइप कर सकते हैं।

लिनक्स टर्मिनल में किसी कमांड के परिणाम को फाइल के रूप में कैसे सहेजें

जब आप लिनक्स के टर्मिनल पर कोई कमांड देते हैं तब आपको तुरंत ही उसका परिणाम सामने मिल जाता है। लेकिन कई बार भविष्य के किसी प्रयोग हेतु इस परिणाम को सहेजना जरूरी होता है। कितना अच्छा हो यदि हम इसका परिणाम किसी फाइल में सहेज सकें।

वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित करें

वेबमिन यूनिक्स तथा लिनक्स के लिए वेब आधारित सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन साफ्टवेयर है। इस एप्लिकेशन के माध्यम से कोई भी बंदा वेब ब्राउजर के माध्यम से ही‌ अपने सर्वर को नियंत्रित कर सकता है। इसे आप लिनक्स सर्वर का जीयूआई भी कह सकते हैं। इस पोस्ट में हम सीखेंगे कि वेबमिन को फेडोरा 33 में कैसे स्थापित किया जा सकता है।

लिनक्स कमांडों की‌ चीटशीट – TLDR Pages

लिनक्स में यदि किसी कमांड के बारे में जानना हो तो MAN पेजों का सहारा लेना पड़ता है। MAN पेजों में यद्यपि उस कमांड के विषय में सम्पूर्ण जानकारी होती है फिर भी आम उपयोगकर्ता के लिए ये समझने में कुछ कठिन रहता है। आज हम TLDR के विषय में चर्चा करेंगे। TLDR लोगों द्वारा बनाए गए लिनक्स कमांड से संबंधित "हेल्प पेजों" का संग्रह है जिन्हे कि किसी भी क्लाइंट द्वारा प्राप्त किया जा सकता है। यह पारंपरिक MAN पेजों का एक तगड़ा विकल्प बन सकता है। क्योंकि ये समझने में बेहद आसान है।

More Articles Like This