पीएचपी ५.४ में नया क्या

पीएचपी का ५.४ संस्करण जारी हो चुका है। आइए जानते हैं कि इसमें क्या नया है:

१. ट्रेट्स (Traits):

ट्रेट्स एक ऐसी क्लास होती है जिसकी इन्सटेंस नही बनाई जा सकती है। आप बोलेंगे कि ऐसा तो एब्सट्रैक्ट क्लासों के साथ होता है। लेकिन ट्रेट्स और एब्सट्रैक्ट क्लासों में फर्क यह है कि आप अपनी किसी क्लास को केवल एक ही एब्सट्रैक्ट क्लास से “इनहैरिट” करवा सकते हैं जबकि किसी क्लास में एक से अधिक ट्रेट्स क्लासें जोड़ी जा सकती हैं। यह एक तरह से “मल्टीपल इनहैरिटेंस” है।

trait Hello
{
function sayHello() {
return “Hello”;
}
}
trait World
{
function sayWorld() {
return “World”;
}
}
class MyWorld
{
use Hello, World;
}
$world = new MyWorld();
echo $world->sayHello() . ‘ ‘ . $world->sayWorld();

२. संक्षिप्त तरीके से एरे परिभाषित करना:

अभी तक जब हमें कोई एरे परिभाषित करनी होती थी तो उसे इस प्रकार लिखना पड़ता था:

$x = array(1,2,3);

लेकिन अब आप एरे को जावास्क्रिप्ट शैली में भी परिभाषित कर सकते हैं। बिल्कुल ऐसे:

$a = [1, 2, 3, 4]; or $a = [‘one’ => 1, ‘two’ => 2, ‘three’ => 3, ‘four’ => 4];.

३. पीएचपी ५.४ के साथ सर्वर भी है:

यह सर्वर एपाचे या आईआईएस जितना शक्तिशाली तो नही है, पर प्रोग्रामों की सामान्य जांच परख के लिए काफी है। सर्वर चलाने के लिए कमांड लाइन पर निम्नलिखित आदेश देना होगा:

php -S localhost:8000

इस आदेश के देते ही आपके कम्प्यूटर के 8000 नम्बर के पोर्ट पर वेबसर्वर चालू हो जाएगा। इस सर्वर की रूट डायरेक्ट्री वही होगी जहां से आपने उपरोक्त आदेश दिया होगा। माना कि आपने यह आदेश c:\> पर दिया तो http://localhost:8000 पर जाने पर c: ड्राइव की फाइलें और फोल्डर सर्व किए जाएंगे।

४. hextobin(string $hex):

यह फंग्शन हेक्स डाटा को बाइनरी में परिवर्तित करता है।

५. http_response_code(int $code):

यह फंग्शन HTTP response code का को प्राप्त करने या तय करने का काम करता है।

६. header_register_callback(string $function):

यह फंग्शन किसी फंग्शन को पीएचपी के परिणाम देते समय पंजीकृत कर देता है। इससे वह फंग्शन उसी समय क्रियान्वित होता है जब पीएचपी परिणाम पैदा करता है।

७. trait_exists(string $name [,bool $autoload]): यह फंग्शन यह जांच करता है कि फलां ट्रेट उपलब्ध है या नही या उसे आटोलोड करना है।

८. क्लास के सभी सदस्यों को उसके इन्सटेंस बनते ही एक्सेस किया जा सकेगा जैसे: (new MyClass)->MyMethod()

९. short_open_tag आपकी php.ini में सक्षम हो या ना हो। <?= $variable ?> का उपयोग आप हमेशा कर सकते हैं।

१०. इसके अतिरिक्त session upload progress को भी जोड़ा गया है। ताकि लोग कोई फाइल कितनी अपलोड हो चुकी है उसकी मात्रा देख सकें। Safe mode, register_globals तथा magic quotes को हटा दिया गया है. get_magic_quotes_gpc() हमेंशा FALSE ही रिटर्न करेगा. trait, callable तथा insteadof अब आरक्षित शब्द बन गए हैं। कुछ mysqli aliases को भी हटा दिया गया है।

 

 

  1. trait Hello
  2. {
  3. function sayHello() {
  4. return “Hello”;
  5. }
  6. }
  7. trait World
  8. {
  9. function sayWorld() {
  10. return “World”;
  11. }
  12. }
  13. class MyWorld
  14. {
  15. use Hello, World;
  16. }
  17. $world = new MyWorld();
  18. echo $world->sayHello() . ‘ ‘ . $world->sayWorld();

What you think about this article?

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CAPTCHA Image

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>